सुधीर भार्गव देश के नए मुख्य सूचना आयुक्त बने

central information commission

भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के 1979 बैच के पूर्व अधिकारी सुधीर भार्गव ने नौवें मुख्य सूचना आयुक्त (सीआईसी) पद की शपथ ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राष्ट्रपति भवन में आयोजित एक सादे समारोह में भार्गव को सीआईसी पद की शपथ दिलायी।

सरकार ने केंद्रीय सूचना आयोग में चार और नये सदस्य नियुक्त किये हैं, इसके साथ आयोग में सदस्यों की कुल संख्या सात हो गयी है, जबकि चार सीटें अब भी रिक्त हैं।

सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय के पूर्व सचिव भार्गव जून 2015 से केंद्रीय सूचना आयोग के सदस्य रहे हैं।उन्होंने आयोग के नौवें मुखिया के तौर पर शपथ ली है। अपने पूर्ववर्ती सीआईसी की तरह भार्गव भी सेवानिवृत्त नौकरशाह हैं।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पूर्व आइएफएस अधिकारी यशवर्धन कुमार सिन्हा, पूर्व आइआरएस अधिकारी वनजा एन सरना, पूर्व आइएएस अधिकारी नीरज कुमार गुप्ता और पूर्व विधि मामलों के सचिव सुरेश चंद्र को केंद्रीय सूचना आयोग में सूचना आयुक्त के पद पर नियुक्ति को हरी झंडी दी है।

सिन्हा 1981 बैच के भारतीय विदेश सेवा के अधिकारी थे। वह ब्रिटेन में भारत के उच्चायुक्त भी रह चुके हैं। नीरज गुप्ता निवेश एवं सार्वजनिक संपत्ति प्रबंधन विभाग में सचिव थे।

सीआईसी में सरना एकमात्र महिला सूचना आयुक्त होंगी। 1980 बैच की भारतीय राजस्व सेवा (सीमा शुल्क और उत्पाद शुल्क) अधिकारी रहीं सरना केंद्रीय उत्पाद एवं सीमा शुल्क बोर्ड (सीबीईसी) की प्रमुख थीं।

केंद्रीय सूचना आयोग में मुख्य सूचना आयुक्त समेत सूचना आयुक्तों के 11 स्वीकृत पद हैं लेकिन उसे अभी सिर्फ तीन सूचना आयुक्तों के साथ काम करना पड़ रहा था।

यह भी पढ़ें:☛ अमिताव घोष को मिला 2018 का ज्ञानपीठ पुरस्कार 

(Visited 22 times, 1 visits today)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *